कैसे एलन मस्क के Dogecoin वाले ट्वीट ने उनकी कंपनी SpaceX को भी पछाड़ दिया?

भारत में इन दिनों क्रिप्टोकरंसी डॉजकॉइन की दीवानगी हर तरफ छाने लगी. देसी क्रिप्टो एक्सचेंजेस पर डॉजकॉइन की रेकॉर्ड तोड़ ट्रेडिंग भी हो रही है.

0
381
Elon Musk, Tesla, Dogecoin,
स्पेस एक्स के मालिक एलन मस्क।[Wikimedia Commons]

भारत में इन दिनों क्रिप्टोकरंसी डॉजकॉइन की दीवानगी हर तरफ छाने लगी. देसी क्रिप्टो एक्सचेंजेस पर डॉजकॉइन की रेकॉर्ड तोड़ ट्रेडिंग भी हो रही है। जिसकी सबसे बड़ी वजह है एलन मस्क (Elon Musk)। उन्होंने
(Bitcoin) में अच्छा खासा निवेश तो किया ही डॉजकॉइन (Dogecoin) को भी इस साल के शुरूआत से ही प्रमोट कर रहे है। एक जापानी नस्ल के कुत्ते शीबा इनु पर बने मीम से प्रेरित यह डिजिटल कॉइन अचानक इंटरनेट सेंसेशन कैसे बन गया ये हैरत की बात है। अब आलम ये है की पिछले तीन महीनों में 10 गुना उछलकर 80 अरब डॉलर के करीब पहुंच चुकी है।

क्या है डॉजकॉइन ?

Dogecoin Bitcoin जैसा ही क्रिप्टो करेंसी है. इसे 2013 में सॉफ्टवेयर इंजीनियर Billy Markus और Jackson Palmer ने मजाक के तौर पर शुरू किया था। ये क्रिप्टो Doge मीम पर बेस्ड था, इसे Bitcoin से फास्टर और फन ऑप्शन के रूप में शुरू किया गया था। उन्होंने डॉजकॉइन के लिए किसी फैन्सी चिन्ह को चुनने के बजाय जापानी कुत्ते की एक ब्रीड शिबा इनू (Shiba Inu) को चुना। यह पहले ही ऑनलाइन पॉपुलर था। क्रिएटर्स ने यहां तक ये भी कहा कि Dogecoin को व्यंग्य के तौर पर शुरू किया गया था। उस टाइम Bitcoin की वैल्यू 20,000 डॉलर तक पहुंचने के बाद कई फ्रॉड क्रिप्टो करेंसी आ गए थे। इस मजाकिया क्रिप्टो करेंसी को काफी लोग फॉलो करने लगे थे। CoinGecko के अनुसार इस वजह से इसकी वैल्यूएशन 34 बिलियन के पार पहुंच गई है।

elon musk, bitcoin doge coin,
Dogecoin Bitcoin जैसा ही क्रिप्टो करेंसी है.(Wikimedia Commons)
“SpaceX अगले साल ‘DOGE -1 मिशन टू द मून’ करेगी लॉन्च”

इसे लेकर एलन मस्क ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर ट्वीट भी किया है। अपने ट्वीट में एलन ने लिखा है, “स्पेसएक्स अगले साल स्टेलाइट “DOGE -1 मिशन टू द मून” लॉन्च कर रहा है. DOGE में भुगतान के लिए मिशन है। अंतरिक्ष में पहली क्रिप्टो – अंतरिक्ष में पहली meme।

Dogecoin का मार्केट कैप जापान की दिग्गज ऑटो कंपनी होंडा मोटर कंपनी लिमिटेड से अधिक हो गया है। होंडा का मार्केट कैप 54.52 अरब डॉलर है जबकि Dogecoin का मार्केट कैप 86 अरब डॉलर पहुंच गया है। यह मार्केट कैप के हिसाब से दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी बन गई है। Dogecoin के को-क्रिएटर बिली मार्कस ने बताया मेरे पास Litecoin, Bitcoin, DOGE और कुछ अन्य क्रिप्टोकरेंसीज थीं। शायद उन्हें आभास नहीं था कि मजाक में शुरू हुई उनकी क्रिप्टोकरेंसी एक दिन दुनिया में तहलका मचाएगी।

यह भी पढ़े : COVID-19: वैक्सीन के बिना कैसे हल होगा वैश्विक कोरोना संकट

मस्क ने Dogecoin के सपोर्ट में फरवरी में कई ट्वीट किए थे। पहले ट्वीट में उन्होंने केवल Doge लिखा। फिर उन्होंने लिखा, ‘Dogecoin is the people’s crypto’। इससे अगले ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘No highs, no lows, only Doge’। बस फिर क्या था, इस क्रिप्टोकरेंसी की कीमत उछलकर 5 सेंट जा पहुंची। मस्क के ट्वीट्स से पहले यह 3 सेंट पर ट्रेड कर रही थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here